प्रद्युम्न के हत्यारे ने खुद बताया कि क्यों की थी मासूम प्रदुम्न की हत्या, वजह जानकर पैरों तले जमीन खिसक जायेगी

रायन इंटरनैशनल स्कूल में हुए सनसनीखेज प्रद्युम्न हत्याकांड में नया और चौंकाना वाला मोड़ सामने आ रहा है। हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ ने सीबीआई के सीनियर अधिकारियों के हवाले से बताया है कि देश को हिला देने वाले इस मर्डर केस में स्कूल के ही एक सीनियर छात्र को हिरासत में लिया गया है। बताया जा रहा है कि उसे बुधवार को ही जूवेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामने पेश किया जाएगा। हालांकि इस संबंध में अभी आधिकारिक तौर पर कोई जानकारी नहीं दी गई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिस छात्र को हिरासत में लिया गया है वह स्कूल का ही एक सीनियर छात्र है। टाइम्स नाउ ने सीबीआई के अधिकारियों के हवाले से बताया है कि जांच एजेंसी को शक है कि यह छात्र हत्या के वक्त बाथरूम में मौजूद था।

हालांकि कथित तौर पर हिरासत में लिए गए छात्र की भूमिका क्या थी, यह सीबीआई की ओर से आधिकारिक बयान जारी किए जाने के बाद ही पता चल पाएगा।

इस बीच हिरासत में लिए गए छात्र के पिता ने अपने बेटे को फंसाए जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि उनके बेटे ने ही सबसे पहले स्कूल के टीचर और माली को प्रद्युम्न की हत्या की जानकारी दी थी। पिता के मुताबिक, उनसे और उनके बेटे से मंगलवार रात काफी देर तक सीबीआई के अधिकारियों ने पूछताछ की और फिर बेटे को हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए गए स्टूडेंट के पिता ने बताया कि सीबीआई कई बार उनके घर जांच के लिए आई और बच्चे के स्कूल बैग सहित स्कूल का दूसरा सामान जब्त किया था।

बता दें कि प्रद्युम्न मर्डर केस में गिरफ्तार किए गए स्कूल बस के ड्राइवर अशोक कुमार ने हत्या करने की बात कबूल जरूर की थी, लेकिन माना जा रहा था कि वह किसी के दबाव में था। बाद में उसने अदालत में ‘फंसाए’ जाने का आरोप भी लगाया था।

प्रद्युम्न के माता-पिता ने भी शक जाहिर किया था कि उनके बेटे के मर्डर के पीछे किसी और का हाथ हो सकता है। प्रद्युम्न के माता-पिता हरियाणा पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं थे जिसके बाद हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर ने 15 सितंबर को मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी। मामले में स्कूल प्रबंधन पर भी लापरवाही के गंभीर आरोप लगे थे। स्कूल के संचालन का जिम्मा प्रशासन ने अपने हाथों में ले लिया था।

गौरतलब है कि 8 सितंबर को रायन इंटरनैशनल स्कूल के वॉशरूम में प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड के बाद कई दिनों तक स्कूल को बंद रखा गया था और स्कूल में सुरक्षा इंतजामों को लेकर प्रबंधन पर सवाल उठ रहे थे। सोमवार को रायन ग्रुप के मालिक पिंटो परिवार को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम जमानत मिल गई। सुप्रीम कोर्ट ने इसके साथ ही पंजाब और हरियाणा कोर्ट को इस मामले में 10 दिनों के अंदर फैसला लेने का निर्देश दिया था।

Source: Bollywoodpapa

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *